प्यूएत्रो रिको निवासी के लिए शोक गीत – –पेद्रो पियेत्री

pedro pietri
प्यूएत्रो रिको निवासी के लिए शोकगीत कविता का पहला पाठ 1969 में साम्राज्यवाद विरोधी लातिन अमेरिकी नौजवानों के समूह यंग लॉर्ड्स पार्टी के सर्मथन में आयोजित न्यूयार्क रैली में किया गया था। ब्लैक पैंथर पार्टी की तरह ही यंग लॉर्ड्स भी सामूदायिक कार्यकर्ता थे, जो जायज और सस्ते मकान तथा समूचित स्वास्थ्य सेवा की माँग का समर्थन करते थे और बच्चों के लिए मुफ्त नाश्ता कार्यक्रम चलाते थे। उन्होंने अपने पास परिवेश के जुझारूपन को वियतनाम और दूसरे देशों में अमरीकी साम्राज्यवाद की दुस्साहिसिक कार्रवाइयों को रोकने, तीसरी दुनिया की मंक्ति, गरीब और अफ्रीकी–अमरीकी लोगों का दमन खत्म करने तथा एक समाजवादी समाज के निर्माण के आहवान से जोड़ा। 1970 के दशक के मध्य में अमरीकी सरकार के उकसावे पर यंग लॉर्ड्स को तहस–नहस कर दिया गया, लेकिन पैद्रो पियेत्री एक क्रांतिकारी कार्यकर्ता और कवि के रूप में निरन्तर सक्रिय रहे और उन्हें अपनी इन दोनों तरह की भूमिकाओं में कोई अन्तर नहीं दिखा। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उन्होंने न्यूयारिकन पोएट्स कैफे की स्थापना की। और उसे जारी रखने में सहयोग दिया जो प्रतिरोधी कला और साहित्य का प्रतिष्ठित केन्द्र था।
पेद्रो पियेत्री का जन्म 1944 में प्यूएत्रो रिको के पेन्स नामक स्थान में और लालन–पालन हार्लेम में हुआ था। हाईस्कूल तक पढ़ाई करने के बाद उन्हें अमरीकी सेना में भर्ती कर लिया गया, वियतनाम युद्व में लड़ने भेजा गया और जब वहां से वापस आये तो वे युद्ध और युद्ध को जन्म देने वाली व्यवस्था के प्रबल विरोधी हो गये। “मुझे एहसास हुआ कि असली दुश्मन कौन है। दुश्मन काले पाजामें वाले वियतकांग नहीं, बल्कि अमरीकी भाड़े के सैनिक थे जिन्होंने उनके देश पर हमला किया था।” व्यवस्था के खिलाफ गुस्से में आग बबूला होकर उन्होंने पियोत्रे रिको निवासी के लिए शोकगीत कविता लिखी जो पहली बार 1973 में इसी शीर्षक से मन्थली रिव्यू प्रेस द्वारा प्रकाशित उनकी रचनाओं के संग्रह और दूसरे आठ अलग–अलग काव्य संकलनों में प्रकाशित हुई। तीन मार्च 2004 को 59 वर्ष की आयु में कैंसर से ग्रस्त होने के कारण प्रैद्रो पिएत्री की मृत्यु हो गयी।
प्यूएत्रे रिको निवासी के लिए शोकगीत का प्रभाव, उसकी अंतर्दृष्टि और सन्देश आज भी पूरी दुनिया के कार्यकर्ताओं और स्वप्नदर्शियों के बीच गुंजायमान हो रहा है । जैसा कि न्यूयार्क टाइम्स ने (लगभग 10 साल पहले) लिखा था–“तीन दशक पहले इस कविता ने एक आंदोलन प्रज्वलित किया था।” –मन्थली रिव्यू

उन्होंने मेहनत की
वे हमेशा समय से आये
उन्होंने कभी देर नहीं की
उन्होंने कभी पलट कर जवाब नहीं दिया
जब अपमानित किये गये
उन्होंने मेहनत की
उन्होंने किसी एक दिन छुट्टी नहीं की
तय छुट्टियों के अलावा
वे हड़ताल पर नहीं गये
बिना अनुमति के
उन्होंने मेहनत की
सप्ताह में दस दिन
और केवल पाँच दिन की मजदूरी मिली
उन्होंने मेहनत की
उन्होंने मेहनत की
उन्होंने मेहनत की
और वे मर गये
वे मर गये तबाह होकर
वे मर गये कर्ज के बोझ से
वे मर गये बिना जाने
कि कैसा लगता है प्रवेश द्वार
पहले राष्ट्रीय सिटी बैंक का

जुआन
मिगुएल
मिलाग्रोस
ओल्गा
मैनुएल
सब मर गये कल आज
और दुबारा मरेंगे कल
अपने कर्ज का बोझ
सबसे करीबी रिश्तेदार को सौंपकर
सब मर गये
इस इन्तजार में कि
इजेन का बाग
उनकी खातिर दुबारा खुलेगा
नये प्रबंध तंत्र के आने पर
सब मर गये
यही सपना देखते हुए कि अमरीका
आधी रात को उन्हें जगायेगा
खुशी से चिल्लाते मीरा–मीरा
तुम्हारे नाम लॉटरी निकली है
एक लाख डॉलर
सब मर गये
नफरत करते पंसारी की दुकान से
जिसने बेच दिया छल से सड़ा कबाब
और बुलेट-प्रूफ चावल और सेम
सब मर गये इन्तजार करते
सपना देखते और नफरत करते
मृत प्यूएत्रे रिको निवासी
जिन्होंने कभी नहीं जाना कि वे
प्यूएत्रे रिको से हैं
जिन्होंने कभी कॉफी पीने का अवकाश नहीं लिया
धर्मोंपदेशों का उलंघन करके
कि अन्त करें अपनी टूटी खोपड़ी के मालिक का
और बतियाएँ अपनी लातिन अमरीकी रूह से

जुआन
मिगुएल
मिलाग्रोस
ओल्गा
मैनुएल
भग्न स्नायु गलियों के वासी
जहाँ चूहे जीते हैं करोड़पतियों की तरह
और लोग जीते ही नहीं बिल्कुल
और मर गये और कभी जीवित नहीं थे
जुआन
मरा इंतजार में कि कब निकलेगी उसकी लौटरी
मिगुएल
मरा सहायता राशि चेक के इंतजार में
कि आये और लौटे और फिर आये
मिलाग्रोस
मरी इस इंतजार में
कि उसके दस बच्चे
कब बड़े हों और काम पर लगें
कि वह छुट्टी पाए काम से
ओल्गा
मरी इंतजार करते कि वेतन पाँच डॉलर बढ़ जाए
मेनुअल
मरा इसी इंतजार में कब मरे उसका मेठ
और कब हो उसकी तरक्की

काफी लम्बा सफर है
स्पेनी हरले से
सुदूर टापू का कब्रिस्तान
जहाँ वे दफनाये गये
पहले रेल का सफर
फिर बस का
और दोपहर के भोजन की मनमानी कीमत
और फूल
जिन्हें चुरा लिया जायेगा
दर्शन का समय बीतते ही
बहुत खर्चीला है
बहुत खर्चीला है
लेकिन वे समझते हैं
उनके माता–पिता समझते थे
यह सुदूर अलाभकर यात्रा है
स्पेनी हरलेमसे
सुदूर टापू पर बने कब्रिस्तान तक

जुआन
मिगुएल
मिलाग्रोस
ओल्गा
मैनुएल
सब मर गये कल और आज
और फिर मरेंगे कल
सपना देखते
रानियों का सपना
साफ-सुथरे, सफेद कुमुदनी जैसे
परिवेश का
जहाँ नहीं दिखे
प्यूऐत्रो रिको निवासी
तीस हजार डॉलर का मकान
इमारत में रहने वाला
पहला लातिनी
उस इलाके में बसने का गौरव
जहाँ रहने वाले फिरंगी चाहते हैं
उन्हें पीट–पीट कर मार डालना
गौरव बहुत दूर होने का
इस पवित्र वाक्य से– क्या हालचाल है

ये सपने
ये खोखले सपने
माँ-बाप के छोड़े हुए
छलमय शयन कक्षों में
स्वाभाविक नतीजा हैं
टेलिविजन कार्यक्रमों का
आदर्श गोरे अमरीकी
परिवार के बारे में
काली नौकरानियों वाले
और लातिन अमरीकी दरबान
जिन्हें अच्छी जानकारी है
कि कैसे हर कोई
उन पर हँसे
और उनका साहूकार
और जिनके वे नुमाइंदे हैं वे भी

जुआन
मरा एक नयी मोटर गाड़ी का
सपना देखते
मिगुएल
मरा नए गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम का सपना देखते
मिलाग्रोस
मरी प्यूएत्रो रिको जाने का सपना देखते
ओल्गा
मरी असली गहनों का सपना देखते
मैन्युएल
मरा आयरिश घुड़दौड़ में दाँव लगाने का सपना देखते

वे सब मर गये
जैसे एक नायक मरता है बीच में फँसा
कपड़ा उद्योग के इलाके में
दोपहर के बारह बजे
सामाजिक सुरक्षा कार्ड राख में
यूनियन का बकाया धूल में

वे जानते थे वे पैदा हुए रोने के लिए
अपनी अंत्येष्ठी करने वाले को नौकरी पर रखवाने के लिए
जैसे वे निष्ठा की कसम खाते हैं
उस झण्डे के प्रति जो चाहता है उन्हें तबाह करना
उन्होंने देखे अपने नाम
तबाही की टेलीफोन निर्देशिका में
उन्हें सिखाया गया भूलना
समाचार पत्रों की दूसरी गुस्ताखी को
जो गलत हिज्जे, गलत उच्चारण करते
और कुछ का कुछ समझ लेते हैं उनके नाम
और जश्न मनाते हैं उनकी मौत पर
और मार लेते हैं उनके कफन–दफन का खर्चा
वे मृत पैदा हुए थे
और वे मुर्दा मरे

यही समय है
दुबारा सिस्टर लोपेज से मिलने का
बेहतरीन उपचार करने वाली
पत्तों से भाग्य पढ़ने वाली
स्पेनी हर्लेम में
वह संवाद कायम करेगी
तुम्हारे मृत सम्बंधियों के साथ
वाजिब दक्षिणा लेकर
अच्छे नतीजे की गारंटी है

जाग पत्ते जाग बता दे भाग
मौत नहीं तू गूँगा-बहरा लूला-लंगड़ा
तुम्हें चाहने वाले जानना चाहते हैं
किस नम्बर पर दाव लगायें
अभी बतायें सही बतायें
जाग पत्ते जाग बता दे भाग
मौत नहीं तू गूँगा-बहरा लूला-लंगड़ा
अब जब खत्म हो गयीं तेरी मुसीबतें
और दुनिया का बोझ उतर गया कन्धों से
मदद कर उन्हें जो छूट गये पीछे

जाग पत्ते जाग बता दे भाग
मौत नहीं तू गूँगा-बहरा लूला-लंगड़ा
अगर सही नम्बर छू जायें
सभी मुसीबत दूर भगायें
फिर हम आयेंगे तेरी कब्र पर
हर सरकारी छुट्टी के दिन
तुम्हें चाहने वाले जानना चाहते हैं
किस नम्बर पर दाव लगायें
अभी बतायें सही बतायें
हमें पता है सक्षम है तुम्हारी आत्मा
मौत नहीं तू गूँगा-बहरा लूला-लंगड़ा
जाग पत्ते जाग बता दे भाग

जुआन
मिगुएल
मिलाग्रोस
ओल्गा
मैनुएल
सब मर गये कल और आज
और फिर मरेंगे कल
नफरत करते लड़ते-झगड़ते और चोरी करते
आपस में टूटी खिड़कियों से
धर्म का पालन करते खुले आकाश के नीचे
नया विधान
पुराना विधान
देशी राजस्व के
न्यायाधीश और जूरी और जल्लाद के
संरक्षित और देशी सूदखोर के
सिद्धांतो के मुताबिक
पुराने सामान बेचने वाले कबाड़ी
कैसे हैं आप कहना सीखो
और तुम्हारी किस्मत चमक जायेगी
और वे मर गये
वे मर गये
और मर कर वापस नहीं आयेंगे
बिना रोके लापरवाही
अपनी बातचीत की कला का
टूटी-फूटी अंग्रेजी के पाठ को लेकर
ताकि भाव जमे मिस्टर गोल्डस्टीनों पर
जो बरकरार रखते हैं उनकी नौकरी
बर्तन धोने वाला किरानी कुली हरकारा लड़कों
फैक्ट्री मजदूरों नौकरानियों मालबाबुओं
लदान बाबुओं डाकघर सहायक
सहायक, सहायक, सहायक
से लेकर सहायक के सहायक
बर्तन धोने वाले का सहायक और खुद ब खुद
बनावटी हँसी हँसने वाला द्वारपाल
वो भी अब तक की सबसे कम मजदूरी पर
जिसे बढ़ाने की माँग पर आग बबूला हो जाता है
क्योंकि यह कम्पनी की नीति के खिलाफ है
पदोन्ती देना किसी लातिनो को

जुआन
मर गया मिगुएल से नफरत करते क्योंकि मिगुएल की
पुरानी मोटर गाड़ी अच्छी चालू हालत में थी
उसकी पुरानी मोटर गाड़ी की तुलना में
मिगुएल
मर गया मिलाग्रोस से नफरत करते क्योंकि
मिलाग्रोस के पास था
एक रंगीन टेलीविजन
और उसकी अपनी औकात नहीं थी खरीदनें की
मिलाग्रोस
मर गयी ओल्गा से नफरत करते क्योंकि ओल्गा
उसी काम के लिए पाँच डॉलर ज्यादा बना लेती थी
ओल्गा
मर गयी मेनुएल से नफरत करते
क्योंकि मेनुएल
जुऐ में उससे अधिक बार जीता
जितनी बार वह जीती
मेनुएल मर गया उन सभी से नफरत करते हुए
जुआन
मेगुएल
मिलाग्रोस
और ओल्गा
क्योंकि वे सभी बोलते थे टूटी फूटी अंग्रेजी
उससे कहीं धारा प्रवाह

और अब वे एक साथ हैं
शून्य के मुख्य दालान में
चुप्पी के आदी बने
हवा की सीमाओं से दूर
कीड़ों के प्रभुत्व में कैद
सुदूर टापू पर कब्रिस्तान में
यही है खाँचेदार परलोक
जिसके बारे में प्रोटेस्टेन्ट दान पात्र्
चर्चा करते थे इतने जोर-शोर से अहंकार पूर्वक

यहाँ लेटा है जुआन
यहाँ लेटा है मिगुएल
यहाँ लेटी है मिलाग्रोस
यहाँ लेटी है ओल्गा
यहाँ लेटा है मेनूएल
जो मर गये कल आज और फिर मरेंगे कल
हमेशा तबाह हमेशा कर्ज में
बिना कभी जाने
कि वे सुन्दर लोग हैं
बिना कभी जाने
अपने रूप रंग का भूगोल
प्यूएत्रो रिको एक खूबसूरत जगह है
प्यूएत्रो रिको–निवासी सुन्दर नस्ल हैं
यदि वे केवल
टेलीविजन बन्द कर देते
और अपनी कल्पनाओं में डूबते उतराते
यदि वे केवल
इस्तेमाल करते गोरे वर्चस्व के बाइविल का
टायलेट पेपर की जगह
और अपनी लातिनी आत्मा को बनाते
एक मात्र धर्म अपनी नस्ल का
यदि वे केवल
लौट गये होते सूरज की परिभाषा की ओर
अपनी अनुभूतियों के ग्रीष्मकाल में आये
पहले मानसिक बर्फीले तूफान के बाद
यदि वे केवल
अपनी आँखों को खुला रखते
अपने सहकर्मियों की शव यात्र पर
जो आये थे इस देश में अपनी किस्मत संवारने
और दफनाये गये बिना अन्तःवस्त्रों के

जुआन
मिगुएल
मिलाग्रोस
ओल्गा
मैनुएल
अब किया करेंगे खुद अपने काम
जहाँ सुन्दर लोग गाते
और नाचते और काम करते हैं एक साथ
जहाँ हवा अन्जान है
मौसम के तकलीफदेह हालात से
जहाँ शब्दकोष की जरूरत नहीं होती
अपने लोगों के साथ संवाद बनाने के लिए
यहाँ स्पेनी बोली जाती है हर समय
यहाँ सबसे पहले अपने झण्डे को सलाम करो
यहाँ डायल साबुन के प्रचार नहीं हैं
यहाँ सब लोग सुगंधित हैं
यहाँ टीवी पर दिखने वाले दावतों का कोई भविष्य नहीं है
यहाँ औरत और मर्द अनुरागी हैं अभिलाषा के
और कभी उबते नहीं एक दूसरे से
यहाँ कुछ हुआ का अर्थ है क्या हो रहा है
यहाँ नीग्रो के नाम से बुलाने का मतलब होगा
प्यार कहकर बुलाना ।

(मंथली रिव्यू से आभार सहित. अनुवाद – दिगम्बर)

Advertisements
Post a comment or leave a trackback: Trackback URL.

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: